माँ पर सुविचार – माँ पर अनमोल वचन के स्टेटस और कोट्स

माँ, जिसके बारे में जितना बताया जाए उतना कम है। एक इंसान अगर किसी काबिल होता है तो उसके पीछे भी माँ के दिए संस्कार और उपदेश होते हैं। माँ भगवान् का ही तो दूसरा रूप है। जिस इंसान ने अपनी माँ को उसके जीवनकाल में खुश रखा उसने समझो भगवान् पा लिया। बस उसी माँ के आशीर्वाद से आज मैं माँ पर सुविचार की कुछ पंक्तियाँ लिख रहा हूँ। आशा करता हूँ आप सभी को पसंद आयेंगे।

माँ पर सुविचार

माँ पर सुविचार

 


1. इन्सान की सबसे अच्छी दोस्त उसकी माँ होती है।


2. उम्र भले ही कितनी भी हो जाए, सुकून तो माँ की गोद में ही आता है।


3. संसार में चाहे कितने भी सुन्दर चेहरे हों लेकिन माँ से सुन्दर कोई भी नहीं है। उसी तरह माँ के लिए भी सबसे सुन्दर चेहरा उसकी संतान का होता है।


4. माँ अपनी ख़ुशी सदा अपने बच्चों में ही देखती है।


5. एक छोटे से घर का गूगल माँ होती है। जिसे हर चीज पता होती है आपके सामान से लेकर आपकी भावनाओं तक।



6. बच्चे बड़े होने पर माँ को भूखा छोड़ सकते हैं लेकिन माँ बच्चों के बूढ़े होने पर भी उन्हें खाना खिलने की हिम्मत रखती है।


7. घर तो माँ से होता है वर्ना ईंटों का तो सिर्फ मकान होता है।


8. हर इन्सान का पहला प्यार उसकी माँ ही होती है।


9. हाँ मानता हूँ माँ बहुत गुस्सा होती है लेकिन हर मुसीबत में वो मेरे साथ खड़ी रहती है।


10. जमाना कहाँ गलतियां माफ़ करता है साहब, वो तो माँ है जो मुस्कुरा कर हर खता भुला देती है।


11. दुनिया में मशहूर नहीं है तो क्या? मेरी माँ के हाथों का खाना सबसे ज्यादा लजीज होता है। माँ की लोरी कानों में आज भी अमृत घोल देती है। जिंदगी जीने की सीख देने वाली वही तो मेरी सबसे पसंदीदा अध्यापक हैं।


12. अगर मेरे अन्दर कोई बुराई है तो उसका जिम्मेदार मैं खुद हूँ और अगर मेरे अन्दर कोई अच्छाई है तो उसकी जिम्मेदार माँ है।


13. माँ को हमारी समस्याओं से परेशानी हो सकती है हमसे नहीं।



14. वो इन्सान कभी गरीब नहीं हो सकता जिसके सिर पर माँ का साया होता है।


15. माँ की सारी तकलीफें दूर हो जाती हैं जब उसकी संतान उसे प्यार से गले लगाती है।



16. अपने बच्चों के सपनो के लिए अपनी बहुत सी ख्वाहिशें का गला सिर्फ माँ ही घोंट सकती है।


17. माँ ही है जिसने ध्रुव, प्रह्लाद, गुरु नानक,कबीरदास, तुलसीदास और बहुत से महान पुरुषों को जन्म दिया। इन सब के महान बनने का कारण माँ ही है।


18. अध्यापक हमें दुनिया और दुनिया की चीजों के बारे में बताते हैं लेकिन माँ हमें हमारे बारे में बताती है।


19. शब्दों को तो सारी दुनिया जानती है लेकिन ख़ामोशी को तो सिर्फ माँ पहचानती है।


20. तकलीफ बच्चे को होती है और वो सारी रात नहीं सोती। कैसे बताऊँ उसके बारे में, माँ कभी शब्दों में बयान नहीं होती।


21. परिस्थितियां बदलती रहती हैं लेकिन माँ का प्यार नहीं बदलता।


22. दुनिया भर में सबसे सुरक्षित जगह माँ की गोद है।


23. हम सबसे अच्छे हैं दुनिया को ये दिखाने के लिए हमे खुद को साबित करना पड़ता है। एक माँ ही है जिसे ये बात हमारे जन्म से ही पता होती है।


24. संसार में सबसे अच्छी चीज माँ की आँखों में ख़ुशी के आंसू हैं।


25. प्यार शब्द की सबसे उत्तम परिभाषा है – ‘माँ’


आपको माँ पर सुविचार कैसा लगा? अपने विचार हम तक कमेंट बॉक्स के जरिये अवश्य पहुंचाएं।

धन्यवाद।

ये रचनाएँ भी पढ़े..



अच्छा लगा? तो क्यों ना लाइक और शेयर करे..!

हमारे सब्सक्रिप्शन पालिसी जानिए या अपना सब्सक्रिप्शन अपडेट कीजिये।

Sandeep Kumar Singh

Sandeep Kumar Singh

ये कविताएं, शायरियां और कुछ विचार मेरी खुद की रचनाएं हैं। कुछ नकलची बंदरों ने इन्हें चुरा कर अपने ब्लॉग पर डाल लिया है। असली रचनाएं यहीं हैं। आशा करता हूँ कि यदि आप ये रचनाएं कहीं शेयर करते हैं तो हमारे ब्लॉग का लिंक साथ मे जरूर दें। मैं एक अध्यापक हूँ और अपने इस ब्लॉग क लिए खुद ही लिखता हूँ। धन्यवाद।

You may also like...

7 Responses

  1. alok kumar कहते हैं:

    धरती पर माँ भगवान् का रूप है.

  2. Sudha devrani कहते हैं:

    बहुत सुन्दर……

  3. Rahul कहते हैं:

    माँ तो धरती पर भगवान का रुप होती है। अरे! भगवान को भी जनम लेने के लिए माँ की जरुरत पङी हम तो एक इँसान हैं।
    माँ जिस पौधे को जल दे दे
    वह पौधा सदल बन जाता है
    माँ के चरणोँ को छूकर पानी
    गँगा जल बन जाता है।

  4. Suraj Sharma कहते हैं:

    सच बहुत सुन्दर दिल को छू लेने वाली कविता

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *