धार्मिक सुविचार हिंदी में | सुविचार संग्रह – १ By संदीप कुमार सिंह – १

आप पढ़ रहे है, संदीप कुमार सिंह की धार्मिक सुविचार हिंदी में ।

सुविचार संग्रह – १ | धार्मिक सुविचार हिंदी में

धार्मिक सुविचार हिंदी में | सुविचार संग्रह - १

1. अगर इंसान मन में अपनी हार सोच ले तो उसे भगवान भी जीत नहीं दिला सकते, और अगर इंसान मन में अपनी जीत सोच ले तो उसे भगवान भी नहीं रोक सकते।


2. जब तक आप भगवन पर भरोसा नहीं करते, तब तक आप खुद पर भरोसा नहीं कर सकते।


3. भगवान नर-नारी में है, जिस दिन तुम्हें इस बात का ज्ञान हो गया, तुम्हारे पाप धुल जाएँगे।


4. सूर्य की किरण संसार में तो प्रकाश फैला सकती है लेकिन मन में नहीं, मन में भगवान का नाम ही प्रकाश फैला सकता है।


5. भगवान को अपने आस पास महसूस करो उनकी अनुभूति मात्र से ही जीवन सफल हो जाएगा।


6. आत्मविश्वास बढाने का सबसे सरल उपाय प्रभु का सिमरन है।


7. धार्मिक स्थलों के अंदर जाने से पहले भगवान को कोई वस्तु भेंट करने से पहले एक बार बाहर बैठे बेसहारा लोगों को एक नजर जरूर देख लेना, सुना है वो हर एक में बसता है।


8. गरीब-अमीर दुनिया वालों के लिए मायने रखते हैं, भगवान के लिए व्यक्ति भक्तिभाव से अमीर होना चाहिए।


9. भगवान की पूजा पैसों से नहीं श्रद्धा से की जाती है, सच्चे मन और अच्छे चरित्र से ही भगवान की प्राप्ति हो सकती है।


10. मन में शांति होगी तो हर जगह प्रभु का वास होगा।


11. प्रभु कण-कण में निवास करते हैं, ऐसी सोच रखने भर मात्र से ही हम नकारात्मक चीजों से दूर रहते हैं।


12. कुदरत, धुप, बरसात और इसी तरह की कई चीजों पर भगवान् ने सब को बराबर के अधिकार दिए हैं, ये आप पर निर्भर करता है आप उसे कैसे प्रयोग करते हैं।


अगर आपको ये सुविचार संग्रह पसंद आये तो इसे दुसरो तक भी शेयर करे। और ऐसे ही सुविचार रोज पाने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करे। आप ईमेल में भी नये पोस्ट के अपडेट पा सकते है, इसके लिए आपको नीचे फॉर्म में सब्सक्राइब करना पड़ेगा।

पढ़िए कुछ और धार्मिक रचनाएं :-

धन्यवाद




Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh
ये कविताएं, शायरियां और कुछ विचार मेरी खुद की रचनाएं हैं। कुछ नकलची बंदरों ने इन्हें चुरा कर अपने ब्लॉग पर डाल लिया है। असली रचनाएं यहीं हैं। आशा करता हूँ कि यदि आप ये रचनाएं कहीं शेयर करते हैं तो हमारे ब्लॉग का लिंक साथ मे जरूर दें। मैं सिर्फ एक ब्लॉगर हूँ और अपने इस ब्लॉग क लिए खुद ही लिखता हूँ। धन्यवाद।

Related Articles

4 टिप्पणी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles