Declaimer

नमस्कार मित्रों,

जैसा की आप जानते हैं कि हर ब्लाग का अपना एक तरदीद होता है। अरे! हाँ आप सोच रहे होंगे ये तरदीद क्या है? अरे भाई इसीलिए तो हम यहाँ पर हैं ताकि आपका सामान्य ज्ञान बढ़ा सकें। तरदीद का अर्थ है Disclaimer।

चलिए अब हमारी ओर से ये घोषणापत्र पढ़ लें।

“इस ब्लॉग के सभी पात्र और घटनाएं काल्पनिक नहीं है। जो काल्पनिक नही है उन्हे हमने अपनी और आपकी सहूलियत के हिसाब से प्रयोग किया है। हाँ, यह पूर्ण रूप से सत्य है कि कुछ सामग्री हमने यहां-वहां से भी उठाई होगी। परंतु वह नाम मात्र होगी। किसी समुदाय या संस्था को ठेस पहुंचाना हमारा उद्देश्य नहीं है। यदि किसी को हमारे किसी लेख से आपत्ति हो तो कृपया कोई भी कदम उठाने से पहले यहाँ हमसे संपर्क साध कर अपना भ्रम दूर करें।

*हमने जो लोगो उपयोग किया है, उसका विवरण यहाँ है- (Education,Tool graphics by Freepik from Flaticon are licensed under CC BY 3.0. Made with Logo Maker)

हमारे इस अप्रतिम ब्लॉग की सारी सामग्री हमारे अधीन है। कृपया चोरी करने का प्रयास ना करें अपितु अन्य लोगों को भी इस ब्लॉग से जोड़ें।”

कमेंट और बैकलिंक्स:

हमारे कोई भी पाठक हमारे लेख के बारे में अपने विचार कमेंट के माध्यम से व्यक्त कर सकते है। फिर भी कमेंट को आपके और हमारे दोनों के लिए सुरक्षित और सहज बनाने के लिए हमने कुछ नियम बनाये है जो इस प्रकार है:

  • कमेंट करने के लिए आपका नाम और आपका ईमेल एड्रेस सिर्फ आपकी वैद्यता के लिए पूछा जाता है। सिर्फ आपके चाहने पर ही हम उस ईमेल में रिप्लाई देते है। इसके अलावा हम आपके ईमेल का किसी भी तरह से उपयोग नही करते। हम हमारे पाठको की प्राइवेसी की क़द्र करते है।
  • कमेंट में अगर आप अपना नाम और ईमेल के जगह में कुछ भी डाल देते है तो आपका कमेंट स्वीकार्य नही होगा।
  • पाठको से निवेदन है की कमेंट में अपने पर्सनल मोबाइल नंबर, या किसी भी तरह की कोई कांटेक्ट डिटेल शेयर ना करे।
  • पाठको से निवेदन है की कमेंट में सिर्फ लेख के बारे में ही विचार दे। आपके किसी दुसरे सवालो या फिर सुझाव के लिए आप हमें सीधे इस पेज पर संपर्क करे। आप हमारे सोशल मीडिया पेज में भी हमसे संपर्क कर सकते है।
  • हमें देखने में आया है की कुछ ब्लॉगर, बैक लिंक लेने के लिए लेख को बिना पढ़े ही कमेंट में कुछ घिसे-पिटे और अति सामान्य शब्द और वाक्य लिख देते है। जैसे की, “बहुत सुन्दर रचना ” ऐसे ही और दुसरे। अतः हम ब्लॉगरो से निवेदन करते है की हमारे लेख पढ़े और लेख के बारे में कोई रचनात्मक और तार्किक टिप्पणी करे तभी हम आपको बैक लिंक देंगे। इससे आपको दूसरा फायदा ये होगा की आपके तार्किक कमेंट पढ़के लोग आपके ब्लॉग में भी जायेंगे, सिर्फ घिसे-पिटे वाक्यों के प्रयोग से कोई आपके ब्लॉग में नही जायेगा।
  • अगर आप हमसे क्वालिटी बैकलिंक(पैड) चाहते है तो हमसे संपर्क करे। कमेंट में बैकलिंक लेने से फायदा नही होगा।
  • हर कमेंट हम मैन्युअली देखके और उसके लिंक चेक करने के बाद ही उसे ब्लॉग में मान्यता देते है, इसलिए गलत ईमेल एड्रेस, ब्रोकन लिंक और निरर्थक टिप्पणी ना करे वो हमारे टीम द्वारा हटा दी जाएगी।
  • अपशब्द, स्पैम, किसी को निचा दिखाने, भड़काऊ और बाकि निरर्थक कमेंट हम स्वीकार नही करते। कृपया अच्छे और तार्किक कमेंट करके अपनी बौद्धिक परिचय दे।

इसके अतिरिक्त कमेंट और बैक लिंक के सम्बन्ध में अगर किसी के पास कोई सवाल या सुझाव हो तो हमसे संपर्क करे।

धन्यवाद

धन्यवाद सहित,

Admin ApratimBlog.COm (AB.C)