दोगले लोग शायरी स्टेटस कोट्स | 15 Dogle Log Shayari Status Quotes

घटिया लोगों पर शायरी – आज कल लोग एक चेहरे पर कई चेहरे लगा कर घूमते हैं। जो जिसके सामने जाते हैं उसी की अच्छाई का गुणगान गाने लगते हैं और पीठ पीछे उसी की बुराई करना शुरू कर देते हैं। ऐसे लोगों की जब भी हमें जरूरत पड़ती है तो ये लोग अपना दोगलापन दिखा देते हैं। ऐसे ही लोगों को दोगला कहा जाता है जो बात-बात पर बदल जाते हों। आइये पढ़ते हैं ऐसे ही घटिया लोगों को समर्पित “ दोगले लोग शायरी ” ( Dogle Log Shayari )

दोगले लोग शायरी

दोगले लोग शायरी

1.
दिल में धोखा, होठों पे मुस्कान होती है,
दोगले लोगों की यही पहचान होती है।

2.
शरीफों के लिए वो जैसे एक रोग हैं,
धोखा देने वाले जो दोगले लोग हैं।

3.
सच्चाई से विश्वास हट जाता है,
दोगला इन्सान जब जुबान से पलट जाता है।

4.
छोड़ गए सब दोगले आज हमारा साथ,
कल तक जो कहते रहे, हम थामेंगे हाथ।

5.
मतलब से है मित्रता, मतलब से है प्यार,
सभी दोगले कर रहे, मतलब का व्यवहार।
6.
अपनापन अब है नहीं, झूठा है सब प्यार,
भरा दोगलों से पड़ा, स्वार्थी यह संसार।

7.
धोखा देने की सदा, करते रहे तलाश।
इस दुनिया में दोगले, करते नहीं निराश।

8.
घूम फिर कर हर शख्स, उसी बात पर आ जाता है,
मतलब निकल जाए तो अपनी औकात दिखा जाता है।

9.
बुरे वक़्त के साथ जो अपनी मुलाकात देख ली,
कुछ दोगले लोगों की हमने औकात देख ली।

10.
दुनिया में जो दोगले इन्सान होते हैं,
अपनों के भेष में शैतान होते हैं।

11.
मतलब के लिए दुश्मन के भी पैर चूम लेते हैं,
दोगले लोग कई चेहरे लगा कर घूम लेते हैं।

12.
कैसे भी हालात रहें पर, साथ न छोड़ा सपनों का,
सीख गए जीना जब देखा दोगलापन हमने अपनों का।

13.
जहाँ से मिलता है माल, ये बनें उसी के लाल,
दोगले बुनते रहते सदा, बेईमानी का जाल।

14.
झूठी-मूठी बातें करके, सबका दिल बहलाते हैं,
मौके पर धोखा देते, दोगले वो कहलाते हैं।

15.
झूठी शान दिखाएँ, वो मांग-मांग कर भीख,
दोगले लोग भला कहाँ सीखते अच्छी सीख।

 

आपको यह घटिया लोगों ” दोगले लोग शायरी ” ( Dogle Log Shayari ) कैसी लगी ? अपने विचार कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।

पढ़िए अप्रतिम ब्लॉग की ये बेहतरीन रचनाएं :-

धन्यवाद।

Add Comment