आम पर कविता :- आमों के पेड़ों पर देखो | Mango Poem In Hindi

आम पर बाल कविता ( Mango Poem In Hindi ) में आम के फल की विकास प्रक्रिया को बताते हुए उसके गुणों का वर्णन किया गया है। आम के रस में मिठास के साथ ही कुछ खट्टापन भी होता है जो हमें बताता है कि जीवन का हर अनुभव सुख और दुःख से संयुक्त होता है। आम का पेड़ पत्थर मारने वाले को भी फल प्रदान करता है। सबको समान भाव से अपना मधुर रस देने वाले, सन्त के समान उपकारी आम को अपने दिव्य गुणों के कारण ही फलों का राजा कहा जाता है।

आम पर कविता

आम पर कविता

आमों के पेड़ों पर देखो
लटक रहे हैं कच्चे आम,
झूम रहे हैं संग हवा के
टहनी के दामन को थाम।

अभी हरे हैं पके नहीं हैं
अन्दर से हैं बहुत कठोर,
तोते कोयल इन्हें कुतरने
लगा रहे हैं पूरा जोर।

कुछ दिन में ये पक जाएँगे
सहते सहते आतप धूप,
दमक उठेगा तब सोने – सा
इनका चटक सुनहरा रूप।

टपक पेड़ से ये पड़ते हैं
आने पर आँधी तूफान,
फसल हुई तैयार आम की
जाते हैं यह समझ किसान।

कच्चे पक्के आमों का तो
कई तरह से है उपयोग,
शुभ अवसर पर पत्तों की भी
वन्दनवार बाँधते लोग।

इनके मीठे रस में होता
खट्टेपन का भी आभास,
बना फलों का राजा देते
इनको इनके गुण ही खास।

औरों को रस देने वाले
पा जाते गुठली के दाम,
पत्थर खाकर भी मुस्काते
संतों – से उपकारी आम।

आम पर कविता ( Mango Poem In Hindi ) आपको कैसी लगी? अपने विचार हमने कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं।

पढ़िए बेहतरीन कविताएं बच्चों के लिए :-


धन्यवाद।

Add Comment