निश्चित ही सफलता मिल जाएगी :- दृढ़ संकल्प और प्रयास पर कविता

सूचना: दूसरे ब्लॉगर, Youtube चैनल और फेसबुक पेज वाले, कृपया बिना अनुमति हमारी रचनाएँ चोरी ना करे। हम कॉपीराइट क्लेम कर सकते है।
रचना पसंद आये तो हमारे प्रोत्साहन के लिए कमेंट जरुर करें। हमारा प्रयास रहेगा कि हम ऐसी रचनाएँ आपके लिए आगे भी लाते रहें।

सफलता एक ऐसा शब्द जो सिर्फ शब्द नहीं किसी कि चाहत और किसी का सपना होता है। पर इसकी राह आसान नहीं होती। सफलता प्राप्त करने के लिए इन राहों को दृढ़ संकल्प लेकर पार करना पड़ता है। आइये पढ़ते हैं दृढ़ संकल्प पर कविता :-‘ निश्चित ही सफलता मिल जाएगी ‘

निश्चित ही सफलता मिल जाएगी

निश्चित ही सफलता मिल जाएगी

मत करना मन विचलित अपना
देर अगर जो हो जाए
ऐसा कुछ भी नहीं है जग में
जो न तुमसे हो पाए,
ज्ञान अगर हो लक्ष्य का अपने
दृढ़ संकल्प का भान रहे
निश्चित ही सफलता मिल जाएगी
तुम खड़े जो सीना तान रहे।

राह नहीं आसान है ये
मुश्किल रस्ते में आएगी
किस्मत पे भरोसा मत करना
ये राह तुम्हें भटकाएगी,
मत हारना हिम्मत इनसे तुम
चाहे जितनी घमासान रहे
निश्चित ही सफलता मिल जायेगी
तुम खड़े जो सीना तान रहे।

जो कमी कोई रह जाती है
तो उसका तुम अभ्यास करो
जो गिरते हो तुम एक दफा
तो उठकर फिर प्रयास करो,
लगे रहो तुम कर्म में अपने
जब तक इस तन में प्राण रहे
निश्चित ही सफलता मिल जायेगी
तुम खड़े जो सीना तान रहे।

गिरने में वक़्त नहीं लगता
लगता है नाम कमाने में
खुद ही चलना पड़ता है
न बनता है साथी कोई ज़माने में,
सच्चाई की राह जो चलते
समाज में उसकी शान रहे
निश्चित ही सफलता मिल जायेगी
तुम खड़े जो सीना तान रहे।

कुछ भी करना तुम जीवन में
मगर कभी न वो काम करना
हो जाए जिससे बदनामी
और जीना भी लगे मरना,
इस तरह से रहना तुम कि
बना तुम्हारा सम्मान रहे
निश्चित ही सफलता मिल जाएगी
तुम खड़े जो सीना तान रहे।

पढ़िए :- सफलता पर शायरी का एक शायरी संग्रह

यह कविता आपको कैसी लगी ? इस कविता के बारे में अपने विचार कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।

पढ़िए इस पोस्ट से सम्बंधित और भी रचनाएँ :-


धन्यवाद।

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on email
Email

14 thoughts on “निश्चित ही सफलता मिल जाएगी :- दृढ़ संकल्प और प्रयास पर कविता”

  1. Avatar
    अमित सिंह

    लगता है आप ह्रदय की आवाज़ को कलम के रास्ते कागजों भरते है।लाजवाब

  2. Avatar
    अमीता शर्मा

    आपकी रचनाये मोहक है ।अति सुंदर विचारो का व शब्दो का प्रयोगहा ।बहुत बहुत बधाई

  3. Avatar
    अमीता शर्मा

    Comment Text*आपकी रचनाये पढ़ी । अति सुंदर विचारो और शब्दो का प्रयोग किया गया है ।बहुत बहुत बधाई

  4. Avatar

    बहुत बहुत धन्यबाद सर इसी तरह की कविता डालते रहे जिससे युबाओ में काम करने क जुनून उत्पन होता है

    1. Sandeep Kumar Singh

      जी कमलेश जी हाम्र यही प्रयास है की अपने पाठकों को हम अपनी रचनाओं के जरिये आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते रहेंSTOP SUICIDE ACTION INDIA MISSION VARANASI INDIA बस आप लोगों का प्यार इसी तरह बना रहना चाहिए। धन्यवाद।

  5. Avatar
    सीमा रानी

    बहुत सुन्दर रचना संदीप जी, केवल मेहनत के बल पर ही जीवन काे सफल बनाया जा सकता है |

  6. Avatar
    दिगंबर

    बिलकुल सही लिखा है … देर जरूर लग जाती है पर म्हणत से सफलता मिल जाती है … अच्छी रचना है ….

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *