प्यार पर सुविचार By Sandeep Kumar | हिंदी में भावनात्मक प्यार विचार

सूचना: दूसरे ब्लॉगर, Youtube चैनल और फेसबुक पेज वाले, कृपया बिना अनुमति हमारी रचनाएँ चोरी ना करे। हम कॉपीराइट क्लेम कर सकते है।
रचना पसंद आये तो हमारे प्रोत्साहन के लिए कमेंट जरुर करें। हमारा प्रयास रहेगा कि हम ऐसी रचनाएँ आपके लिए आगे भी लाते रहें।

नमस्कार मित्रों, मैं संदीप कुमार सिंह, आपका दोस्त आपके लिए आज कुछ खास लाया हूँ। आपने आज तक कई महान लोगों के विचार पढ़ें होंगे। इस संसार में हर व्यक्ति कि किसी न किसी विषय के बारे में अपने निजी विचार होते हैं। इसी सन्दर्भ में मैंने भी अपने जीवन के अनुभवों से “प्यार” के बारे में कुछ गहरे भावनात्मक विचार लिखें हैं। आइये पढ़ते हैं :- “प्यार की बातें और प्यार पर सुविचार”(Love Quotes) :-


प्यार की बातें और प्यार पर सुविचार

प्यार की बातें और प्यार पर सुविचार

1. प्यार का मतलब भावनाओं का रूहों से जुड़ना है। सुन्दरता देख कर ही प्यार करें लेकिन चेहरे कि नहीं दिल की।


2. प्यार में किसी से कोई उम्मीद न रख कर दूसरों की उम्मीदें पूरी करने की कोशिश करनी चाहिए।


3.प्यार विश्वास और दया का मिश्रण है।


4. हर रिश्ते का आधार प्यार है। प्यार न होने पर रिश्ते खोखले पेड़ों की तरह हो जाते हैं।


5. प्यार की कोई भाषा नहीं होती लेकिन ये सब भाषाओं में एक जैसा होता है।


6. सारी सृष्टि भगवान की बनायी हुयी है। इसलिए हमें जीव-जंतु के प्रति प्रेमभाव रखना चाहिए।


7. अपने स्वार्थ के लिए प्यार की अपेक्षा नहीं करनी चाहिए। प्यार में आत्म समर्पण की भावना रखनी चाहिए।


8. कोई रिश्ता जुड़ने मात्र से ही प्यार नहीं होता। विचारों का मिलना भी जरुरी होता है।


9. सोच समझ कर किया गया प्यार चालक तो हो सकता है परन्तु कामयाब नहीं।


10. किसी वस्तु, व्यक्ति या स्थान को बार-बार देखने पर आनंद की अनुभूति ही प्यार है।



11. सच्चा प्यार वही है जिसमे त्याग की भावना हो।


12. प्यार जताया नहीं निभाया जाता है।


13. इन्सान के माँ-बाप ही सबसे पहला प्यार होते हैं।


14. इस संसार में हर किसी को प्यार की आवश्यकता होती है।


15. कह भर देना ही प्यार नहीं होता। इसे साबित करने के लिए बिना कुछ कहे सब कुछ कह जाने का गुण होना चाहिए।



16. किसी की कमी महसूस करते हुए बेचैन होना ही प्यार है।


17. किसी से आँखों ही आँखों में बात करके दिल की हर बात समझ लेना ही प्यार है।


18. ख़ामोशी से किया गया समझौता ही सच्चा प्यार है।



19. बिना सुने दूसरे का दर्द समझने की ताकत बस प्यार में होती है।


20. प्यार एक ऐसी ताकत है जो इन्सान से कुछ भी करवा सकती है।


21. किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाकर प्यार प्राप्त नहीं किया जा सकता।


22. इस दुनिया का हर व्यक्ति प्यार का विशेषज्ञ है। चाहे वह इसके पक्ष में हो या विपक्ष में।


23. विश्वास ही प्यार का आधार होता है।


24. किसी के पीछे पागलपन की हद तक पहुंचना किसी भी रूप में प्यार नहीं है। प्यार अपनी ख़ुशी से नहीं किसी और की ख़ुशी से प्राप्त होता है।


25. जिंदगी में कभी भी किसी के प्यार का मजाक नहीं उड़ाना चाहिए। ये उसकी भावनाओं को ठेस पहुंचा सकता है। कहीं न कहीं आपके साथ भी ये हो सकता है।


आपको ये प्यार की बातें और हिंदी में भावनात्मक प्यार विचार कैसे लगे? अपने विचार हम तक अवश्य पहुंचाए। और इसे दूसरो तक भी शेयर करे। हमें आपकी प्रतिक्रियाओं का इंतजार रहेगा।

प्यार से संबंधित कुछ और बेहतरीन रचनाएं :-


धन्यवादा।

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on email
Email

2 thoughts on “प्यार पर सुविचार By Sandeep Kumar | हिंदी में भावनात्मक प्यार विचार”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *