Author: ApratimGroup

दत्तात्रेय के २४ गुरु

दत्तात्रेय के २४ गुरु :- भगवान दत्तात्रेय के गुरुओं को समर्पित कविता

दत्तात्रेय के २४ गुरु | अगहन मास की पूर्णिमा को भगवान दत्तात्रेय की जयन्ती होती है। अत्रि ऋषि और अनुसूया के पुत्र दत्तात्रेय समन्वयवादी संत थे। उनके साथ गाय और...

नव वर्ष की कविता

नव वर्ष की कविता :- स्वागत करें नव वर्ष का हम | नूतन वर्ष कविता

नए साल के आगमन पर ‘ नव वर्ष की कविता ‘:- नव वर्ष की कविता जीवन मे नव दिवस जोड़कर बढ़ें सफलता की ओर कदम। नव किरण जगे नव आस...

क्रिसमस डे पर कविता

क्रिसमस डे पर कविता :- इक बूढा अंकल आता है | क्रिसमस त्योहार की कविता

पूरी दुनिया में हर साल 25 दिसंबर को मनाये जाने वाले क्रिसमस डे पर कविता:- क्रिसमस डे पर कविता हर वर्ष दिसंबर माह ढले इक बूढा अंकल आता है, उपहार...

नव वर्ष की कविता

नव वर्ष पर कविता :- नए वर्ष की भीनी खुशबू | नए साल पर कविता

नव वर्ष पर सभी एक दूसरे को शुभकामना देते रहते हैं और उनकी सुख समृद्धि के लिए प्रार्थना करते हैं। ऐसी ही एक शुभकामना आदरणीय सुरेश चन्द्र “सर्वहारा” जी अपनी...

प्रेम विरह कविता

प्रेम विरह कविता :- तड़पने लगा हूँ खुद में मैं | प्रेम वियोग कविता

एक प्रेमी के हृदय की तड़प को शब्दों में व्यक्त करती कविता ‘ प्रेम विरह कविता ‘ प्रेम विरह कविता तड़पने लगा हूँ खुद में मैं निकलने लगी चिंगारी है।...

सुबह पर बाल गीत

सुबह पर बाल गीत :- देखो प्रभात हो आई है | बालगीत इन हिंदी

एक बच्चे के सुबह आलस्य की वजह से न उठने पर उसे उठाने के लिए लिखा गया बाल गीत ” सुबह पर बाल गीत ” :- सुबह पर बाल गीत...