25 देशभक्ति नारे और स्लोगन | DeshBhakti Slogans and Sayings

किसी भी देश में जब भी कोई आन्दोलन चलता है तो उसमें जोश डालने के लिए कई बार कुछ देशभक्ति नारे और वचन लगाये जाते हैं जो काफी प्रसिद्धि प्राप्त कर लेते हैं। उन्हीं नारों के जोश से ही नई पीढ़ी और देश के सभी लोग भी उस आन्दोलन से जुड़ जाते हैं। सिर्फ आन्दोलन ही नहीं एकजुटता दिखाने और महानता दिखाने के लिए भी महान लोगों द्वारा बोले गए कुछ वचन देश की महानता को दर्शाते हैं। ऐसे ही देशभक्ति नारे और स्लोगन हम आपके लिए लेकर आये हैं। 


देशभक्ति नारे और स्लोगन

देशभक्ति नारे और स्लोगन

1. “अंग्रेजो भारत छोड़ो”
– महात्मा गांधी

2. “भारत माता की जय”
– महात्मा गांधी

3. “करो या मरो”
– महात्मा गांधी

4. “यह एक ऐसा चेक था, जो बैंक से पहले ही नष्ट हो जाने वाला था”
– महात्मा गांधी

5. “विजयी विश्व तिरंगा प्यारा”
– श्यामलाल गुप्ता

6. “आराम हराम है”
– जवाहर लाल नेहरू

7. “पूर्ण स्वराज”
– जवाहर लाल नेहरू

8. “आराम हराम है”
– जवाहरलाल नेहरू

9. “हु लिव्स इफ इंडिया डाइज” (Who Lives If India Dies )
– जवाहरलाल नेहरू

10. “वेदों की और लौटो”
– दयानंद सरस्वती

11. “तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आज़ादी दूंगा”
– सुभाषचंद्र बोस

12. “जय हिंद”
– सुभाषचंद्र बोस

13. “दिल्ली चलो
– सुभाषचंद्र बोस

14. “हिंदी हिन्दू हिंदुस्तान”
– भारतेंदु हरिश्चंद्र

15. “मेरे शरीर पर एक-एक पड़ी लाठी ब्रिटिश साम्राज्य के कफ़न में कील सिद्ध होगी”
– लाला लाजपत राय

16. “समूचा भारत एक विशाल बंदीगृह है”
– सी. आर. दास

17. “इनक़लाब जिंदाबाद”
– मो. इक़बाल

18. “सारे जहाँ से अच्छा हिन्दोस्तान हमारा”
– मो. इक़बाल

19. “जन-गण-मन अधिनायक जय हे”
– रवीन्द्रनाथ टैगोर

20. “वंदे मातरम”
– बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय

21. “भारतवर्ष को तलवार के बल पर जीत गया था और तलवार के बल पर ही उसने ब्रिटानी कब्जे में रखा जाएगा”

– लार्ड एल्गिन

22. “सरफ़रोशी की तमन्ना, अब हमारे दिल में है, देखना है ज़ोर कितना बाजु-ए-कातिल में है”
– राम प्रसाद बिस्मिल

23. “स्वराज हमारा जन्म सिद्ध अधिकार है”
– बाल गंगाधर तिलक

24. “जय जवान जय किसान”
– लाल बहादुर शास्त्री

25. ” दुश्मन की गोलियों का हम सामना करेंगे, आजाद ही रहे हैं, आजाद ही रहेंगे”
– चंद्र शेखर आजाद

अगर ये देशभक्ति नारे और स्लोगन आपको पसंद आये तो शेयर जरुर करे, अगर आपके पास कोई नारा हो तो कमेंट में शेयर करे, हम उसे यह जोड़ देंगे.

ये रचनाएँ भी पढ़े..



अच्छा लगा? तो क्यों ना शेयर और लाइक करे..!


Sandeep Kumar Singh

बस आप लोगों ने देख लिया जीवन धन्य हो गया। इसी तरह यहाँ पधारते रहिये और हमारा उत्साह बढ़ाते रहिय्रे। वैसे अभी तो मैं एक अध्यापक हूँ साथ ही इस अपने इस ब्लॉग क लिए लिखता हूँ। लेकिन मेरे लिए महत्वपूर्ण है आप लोगों के विचार। अपने विचार हम तक अवश्य पहुंचाएं। जिससे हम उन पर काम कर के आपकी उमीदों पर खरे उतर सकें। धन्यवाद।

शायद आपको ये भी पसंद आये...

8 लोगो के विचार

  1. Lala rajpat rai says:

    Worst application

  2. Ankita Mishra says:

    @Nice thoughts

  3. Sumit Kumar says:

    1/26/2017

  4. AKMAL says:

    चले आओ मेरे परिंदों लौट कर अपने आसमान में,
    देश की मिटटी से खेलो, दूर-दराज़ में क्या रक्खा है

अपने विचार दीजिए:

Your email address will not be published. Required fields are marked *