प्रेरणादायक कविता – घुट घुट कर जीना छोड़ दे | Motivational Hindi Poem

आप पढ़ रहे है – ” प्रेरणादायक कविता – घुट घुट कर जीना छोड़ दे।” जिन्दगी से निराश हो चुके लोगों के लिए हौसला बढ़ाने वाली कविता ।

प्रेरणादायक कविता – घुट घुट कर जीना छोड़ दे

प्रेरणादायक कविता - घुट घुट कर जीना छोड़ दे

घुट-घुट कर जीना छोड़ दे,
तू रुख हवाओं का मोड़ दे,

हिम्मत की अपनी कलम उठा,
लोगों के भरम को तोड़ दे,

तू छोड़ ये आंसू उठ हो खड़ा,
मंजिल की ओर अब कदम बढ़ा,

हासिल कर इक मुकाम नया,
पन्ना इतिहास में जोड़ दे,

घुट-घुट कर जीना छोड़ दे,
तू रुख हवाओं का मोड़ दे,

हिम्मत की अपनी कलम उठा,
लोगों के भरम को तोड़ दे।



उठना है तुझे नहीं गिरना है,
जो गिरा तो फिर से उठना है,

अब रुकना नहीं इक पल तुझको,
बस हर पल आगे बढ़ना है,

राहों में मिलेंगे तूफ़ान कई,
मुश्किलों के होंगे वार कई,

इन सबसे तुझे न डरना है,
तू लक्ष्य पे अपने जोर दे,

घुट-घुट कर जीना छोड़ दे,
तू रुख हवाओं का मोड़ दे,

हिम्मत की अपनी कलम उठा,
लोगों के भरम को तोड़ दे।

चल रास्ते तू अपने बना,
छू लेना अब तू आसमान,

धरती पर तू रखना कदम,
बनाना है अपना ये जहाँ,

किसी के रोके न रुक जाना तू,
लकीरें किस्मत की खुद बनाना तू,

कर मंजिल अपनी तू फतह,
कामयाबी के निशान छोड़ दे,

घुट-घुट कर जीना छोड़ दे,
तू रुख हवाओं का मोड़ दे,

हिम्मत की अपनी कलम उठा,
लोगों के भरम को तोड़ दे।

इस प्रेरणादायक कविता के बारे में अपनी राय हमें जरुर दे, अगर आप भी ऐसे प्रेरणादायक कविता लिख कर लोगो की मदद करना चाहते है तो हमसे संपर्क करे। धन्यवाद

पढ़िए ये हिंदी कवितायेँ- 

अभी शेयर करे
WhatsAppFacebookTwitterGoogle+BufferPin It

26 Comments

  1. Avatar बुधाराम राणा झोटङा (साँचोर)
  2. Avatar Rahul Kumar Yadav
  3. Avatar अंकित कुमार पाटीदार
  4. Avatar सबीना
  5. Avatar Rohit
  6. Avatar ghurau ratre
  7. Avatar ghurau ratre
  8. Avatar Anjali kushram
  9. Avatar VINAY SINGH
  10. Avatar sushil pandey
  11. Avatar सुनील कुमार

Add Comment