हिंदी दिवस पर शायरी :- हिंदी भाषा का महत्व बताता शायरी संग्रह | Hindi Diwas Par Shayari

हिंदी भारत की राजभाषा है। आज बहुत अफ़सोस की बात है कि सारे भारत में को एक साथ जोड़ने वाली भाषा हमारे देश की राष्ट्रभाषा न बन कर बस एक राजभाषा के रूप में ही हमारे साथ है। हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने के लिए बहुत प्रयास किये गए लेकिन अपने ही कुछ लोगों के कारण यह राष्ट्रभाषा न बन सकी। 14 सितम्बर 1949 को हिंदी को हमारी राजभाषा घोषित किया गया। तब से हर साल 14 सितम्बर को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसी क्रम में हम आपके लिए लेकर आये हैं हिंदी भाषा के सम्मान और हिंदी दिवस को समर्पित हिंदी दिवस पर शायरी संग्रह :-

हिंदी दिवस पर शायरी

हिंदी दिवस पर शायरी

1.

सारा जहाँ ये जानता है
ये ही हमारी पहचान है,
संस्कृत से संस्कृति हमारी
हिंदी से हिंदुस्तान है।

2.

जिसमें हैं मैंने ख्वाब बुने
जिससे जुड़ी मेरी हर आशा है,
जिससे है मुझे पहचान मिली
वो मेरी हिंदी भाषा है।

3.

पिता की डांट से माँ की लोरियों तक
स्कूल की किताबों से यारों की टोलियों तक,
जिनसे जो कुछ भी मैंने पाया है
हिंदी भाषा ने इन सब में अपना किरदार निभाया है।



4.

जब भी होता ये दिल भावुक
और ये जुबान लड़खड़ाती है,
ऐसे समय में बस अपनी
मातृभाषा ही काम आती है।

5.

हमारी एकता और अखंडता ही
हमारे देश की पहचान है,
हिन्दुस्तानी हैं हम और
हिंदी हमारी जुबान है।

6.

भारत के हर एक कोने को
आपस में जो साथ मिलाये,
संपर्क सूत्र का काम करे जो
वो भाषा हिंदी कहलाये।

7.

जिससे जुड़े हैं सपने मेरे
जिससे जुड़े हुए अरमान,
हिंदी बस भाषा नहीं
हिंदी है मेरी जान।

8.

हिंदी आशीर्वाद सी है
अंग्रेजी एक आफत है,
हिंदी मात्र भाषा नहीं
हिंदी हमारी विरासत है।

9.

बदलेंगे हालात हमारे
ये धरा भी मुस्कुराएगी,
जन-जन की भाषा हिंदी जब
दिल से अपनाई जाएगी।



10.

देश बढेगा आगे यदि
सबकी आशा एक हो,
मत भी सबका एक हो
भाषा भी सबकी एक हो।

11.

बिछड़ जायेंगे हमारे अपने हमसे
अगर अंग्रेजी टिक जाएगी,
मिट जायेगा वजूद हमारा
अगर हिंदी मिट जाएगी।

12.

सम्मान जो खोया है इसने
हमें उसको वापस लौटाना है,
अस्तित्व न खो दे अपना ये
हिंदी को हमें बचाना है।

13.

विविधताओं से भरे इस देश में
लगी भाषाओं की फुलवारी है,
जिसमें हमको सबसे प्यारी
हिंदी मातृभाषा हमारी है।

14.

बिन इसके अधूरा हूँ मैं
मेरी हालत ऐसी है,
इसके बिना मेरा क्या जीवन
हिंदी मेरी माँ जैसी है।



पढ़िए :- हिंदी दिवस पर कविता

पढ़िए:- हिंदी भाषा पर छोटी कविताएँ

हिंदी दिवस पर शायरी संग्रह के बारे में अपने विचार हम तक अवश्य पहुंचाएं। यदि आप भी हिंदी भाषा की सेवा हेतु कोई रचना हमारे ब्लॉग पर प्रकाशित करवाना चाहते हैं तो अपनी रचना हमारी ईमेल आईडी blogapratim@gmail.com पर या 9115672434 पर व्हाट्सएप्प के जरिये पहुंचा सकते हैं।

धन्यवाद।

अभी शेयर करे
WhatsAppFacebookTwitterGoogle+BufferPin It

हमारे सब्सक्रिप्शन पालिसी जानिए या अपना सब्सक्रिप्शन अपडेट कीजिये।

15 Comments

  1. Avatar Archana Kumari
  2. Avatar Subhash Shastri
  3. Avatar अपर्णा म.खेडकर
    • Sandeep Kumar Singh Sandeep Kumar Singh
  4. Avatar जीवन ठाकुर
  5. Avatar Ayush Patankar
  6. Avatar Uday Kumar Singh
  7. Avatar भानु प्रिया

Add Comment