भारत के रोचक तथ्य | 30 Interesting Facts About India In Hindi

हमारे देश भारत का इतिहास बहुत सारी विविधाताओं और रोचकता से भरा पड़ा है। कई सारी ऐसी छोटी-छोटी और रोचक बातें हैं, जो अधिकांश लोगो को नही पता। इसी कड़ी में हम आपके लिए लाये है कुछ छोटे-छोटे पर महत्वपूर्ण भारत के रोचक तथ्य ।

भारत के रोचक तथ्य

भारत के रोचक तथ्य

1. भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र है ।

2. भारत विश्व का सातवां सबसे बड़ा देश है ।

3. भारत का अंग्रेजी में नाम ‘इंडिया’ इं‍डस (सिंध) नदी से बना है |

4. वाराणसी, जिसे बनारस के नाम से भी जाना जाता है, आज विश्व का सबसे पुराना और निरंतर बसे शहर है। विदेशी पर्यटक यहाँ भारी मात्रा में आते हैं।

5.बीज गणित(algebra), त्रिकोणमिति(trigonometry) और कलन(calculation) भारत में ही आरंभ हुआ था। विदेशों में भी गणित भारत के माध्यम से ही पहुंचा।

6. ‘स्थान मूल्य प्रणाली’(place value system) और ‘दशमलव प्रणाली’(decimal system) का विकास भारत में 100 ईसा पूर्व में हुआ था।

7. सांप सीढ़ी(snake & ladder) का खेल भारत में तेरहवीं शताब्‍दी में तैयार किया गया था। संत ज्ञान देव द्वारा तैयार किये गए इस खेल को पहले मोक्षपट के नाम से जाना जाता था।

8. 10वीं शताब्दी के दौरान तिरुपति शहर में बनाया गया विष्णु मंदिर, विश्व का सबसे बड़ा धार्मिक तीर्थ यात्रा स्थान है।

9. बृहदेश्‍वर मंदिर, विश्व का प्रथम ग्रेनाइट मंदिर हैं। यह तमिलनाडु के तंजौर में स्थित है। इस मंदिर के शिखर ग्रेनाइट के 80 टन के टुकड़ों से बने हैं। यह भव्य मंदिर राजाराज चोल के राज्य के दौरान केवल 5 वर्ष की अवधि में (1004 ए डी और 1009 ए डी के दौरान) निर्मित किया गया था।

10. भारत ने अपने आखिरी 100000 वर्षों के इतिहास में किसी भी देश पर हमला नहीं किया है।

11. भारत का नाम ऋग्वेद के अनुसार प्राचीन जन (कबीला ) ” भरत ” के नाम पर भारत पड़ा। इसके राजा सुदास थे। जिन्होंने परुश्नि (वर्तमान में रावी ) नदी के तट पर दसराज्ञ युद्ध में दस जनों को पराजित किया था।

12. 5000 साल पहले कई संस्कृतियों में घुमंतू(nomads) वनवासी थे, तब भारतीयों ने सबसे पहले सिंधु घाटी (सिंधु घाटी सभ्यता) में हड़प्पा संस्कृति की स्थापना की।

13. हड़प्पा सभ्यता विश्व की पहली नगरीय सभ्यता है। यहाँ हर तरह की बुनियादी सुविधा का बंदोबस्त था।

14. ईरान से आए आक्रमणकारी “स” का उच्चारण(pronunciation) “ह” करते थे। इस तरह उन्होंने सिंधु को हिंदु की तरह प्रयोग किया। और भविष्य में चलकर इसी से देश को ‘हिंदुस्तान’ नाम मिला।

15. दुनिया का सबसे ऊंचा क्रिकेट का मैदान हिमाचल प्रदेश के चायल नामक स्थान पर है। इसे समुद्री सतह से 2444 मीटर की ऊंचाई पर भूमि को समतल बना कर 1893 में तैयार किया गया था।

16. भारत में विश्व भर से सबसे अधिक संख्या में डाक खाने स्थित हैं।

17. भारतीय रेल देश का सबसे बड़ा नियोक्ता है। यह दस लाख से अधिक लोगों को रोजगार प्रदान करता है।

18. विश्व का सबसे प्रथम विश्‍वविद्यालय 700 बी सी में तक्षशिला में स्थापित किया गया था। इसमें 60 से अधिक विषयों में 10,500 से अधिक छात्र दुनियाभर से आकर अध्‍ययन करते थे।

19. नालंदा विश्‍वविद्यालय चौथी शताब्‍दी में स्थापित किया गया था जो शिक्षा के क्षेत्र में प्राचीन भारत की महानतम उपलब्धियों में से एक है। चाणक्य नालंदा विश्वविद्यालय में आचार्य थे।

20. आयुर्वेद मानव जाति के लिए ज्ञात सबसे आरंभिक चिकित्सा शाखा है। शाखा विज्ञान के जनक माने जाने वाले चरक ने 2500 वर्ष पहले आयुर्वेद का समेकन किया था।

21. भारत 17वीं शताब्दी के आरंभ तक ब्रिटिश राज आने से पहले सबसे संपन्न देश था। क्रिस्‍टोफर कोलम्‍बस भारत की सम्पन्नता से आकर्षित हो कर भारत आने का समुद्री मार्ग खोजने चला और उसने गलती से अमेरिका को खोज लिया।

22. नौवहन की कला और नौवहन का जन्‍म 6000 वर्ष पहले सिंध नदी में हुआ था। दुनिया का सबसे पहला नौवहन संस्‍कृ‍त शब्‍द नव गति से उत्पन्न हुआ है। शब्‍द नौ सेना भी संस्कृत शब्‍द नोउ से हुआ।

23. भास्‍कराचार्य ने खगोल शास्त्र के कई सौ साल पहले पृथ्वी द्वारा सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाने में लगने वाले सही समय की गणना की थी। उनकी गणना के अनुसार सूर्य की परिक्रमा में पृथ्‍वी को 365.258756484 दिन का समय लगता है।

24. भारतीय गणितज्ञ बुधायन द्वारा जिस संकल्पना को समझाया उसे पाइथागोरस का प्रमेय करते हैं। उन्‍होंने इसकी खोज छठवीं शताब्‍दी में की, जो यूरोपीय गणितज्ञों से काफी पहले की गई थी।

25. बीज गणित, त्रिकोण मिति और कलन का उद्भव भी भारत में हुआ था। चतुष्‍पद समीकरण का उपयोग 11वीं शताब्‍दी में श्री धराचार्य द्वारा किया गया था।

26. ग्रीक तथा रोमनों द्वारा उपयोग की गई की सबसे बड़ी संख्‍या 106 थी जबकि हिन्‍दुओं ने 10*53 जितने बड़े अंकों का उपयोग (अर्थात 10 की घात 53), के साथ विशिष्‍ट नाम 5000 बीसी के दौरान किया। आज भी उपयोग की जाने वाली सबसे बड़ी संख्‍या टेरा: 10*12 (10 की घात12) है।

27. वर्ष 1896 तक भारत विश्व में हीरे का एक मात्र स्रोत था।
(स्रोत: जेमोलॉजिकल इंस्‍टी‍ट्यूट ऑफ अमेरिका)

28. बेलीपुल विश्व में सबसे ऊंचा पुल है। यह हिमाचल पर्वत में द्रास और सुरु नदियों के बीच लद्दाख घाटी में स्थित है।

29. भारत में होने वाला कुम्भ मेला दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक मेला होता है। कुम्भ मेले को अन्तरिक्ष से भी देखा जा सकता है।

30.  “भारत, मानव जाति का उद्गम स्थल, मानव भाषण का जन्मस्थान है, इतिहास की जननी, कथा की दादी, और परंपरा की दादी है। आदमी के इतिहास में सबसे अधिक मूल्यवान और सबसे शिक्षाप्रद सामग्री भारत में ही है। ” -मार्क ट्वेन

दुनिया के 7 अजूबे | Seven Wonders Of The World Detail Info In Hindi

हम लगातार ऐसे रोचक जानकारीयाँ आपके  सामने पेश करने की कोशिश कर रहे है। आपको ये भारत के रोचक तथ्य लेख कैसा लगा हमें कमेंट के माध्यम से बताये और दूसरों तक भी शेयर करे, ताकि हमें प्रोत्साहन मिले। धन्यवाद

ये रचनाएँ भी पढ़े..



अच्छा लगा? तो क्यों ना लाइक और शेयर करे..!

Sandeep Kumar Singh

बस आप लोगों ने देख लिया जीवन धन्य हो गया। इसी तरह यहाँ पधारते रहिये और हमारा उत्साह बढ़ाते रहिय्रे। वैसे अभी तो मैं एक अध्यापक हूँ साथ ही इस अपने इस ब्लॉग क लिए लिखता हूँ। लेकिन मेरे लिए महत्वपूर्ण है आप लोगों के विचार। अपने विचार हम तक अवश्य पहुंचाएं। जिससे हम उन पर काम कर के आपकी उम्मीदों पर खरे उतर सकें। धन्यवाद।

You may also like...

9 Responses

  1. rohtash nimi says:

    Namskar dost

    Apke dwara di jane wali jankari achi hai. Aap bloging ne naye lagte ho. Apko apne blog or bhi ache ae design krne ke aavsykta hai.

    • Mr. Genius says:

      धन्यवाद Rohtash Nimi
      जी हाँ हम नए हैं और हमें आप जैसे पाठकों की आवश्यकता है जो समय समय पर अपने सुझाव दे सकें। जिस से हम अपने ब्लॉग को और अच्छे ढंग से आगे बढ़ा पाएं।

  2. chandan singh says:

    aapke dawara di gai jankari mujhe bahut pasand aaya (thanks)

  3. Neha says:

    Uncle aapna bohat aachi jankari Di muja bahut passed aai.

  4. Neha says:

    Uncle aapna bohat help ki Meri Mera ma'am karna me

  5. Sudhanshu says:

    bahut hi badhiya jaankari. Dhanyawaad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *