किताब पर कविता :- किताब का महत्व बताती कविता | Poem On Book In Hindi

सूचना: दूसरे ब्लॉगर, Youtube चैनल और फेसबुक पेज वाले, कृपया बिना अनुमति हमारी रचनाएँ चोरी ना करे। हम कॉपीराइट क्लेम कर सकते है।
रचना पसंद आये तो हमारे प्रोत्साहन के लिए कमेंट जरुर करें। हमारा प्रयास रहेगा कि हम ऐसी रचनाएँ आपके लिए आगे भी लाते रहें।

किताबें इन्सान की जिंदगी में एक महत्वपूर्ण स्थान रखती हैं। किताबें ही इन्सान की सबसे अच्छी दोस्त होती हैं। बोली गयी बात तो कुछ ही पल तक अपना वजूद रख पाती है लेकिन लिखी गयी बात तो सदा के लिए अपना वजूद बना लेती है। जो ज्ञान हमें अलग-अलग जगह जाकर हासिल होता है। वो ज्ञान हम किसी और के अनुभवों से उसकी लिखी किताब से पा सकते हैं।  जैसे दूसरों की गलतियों से सीखना चाहिए वैसे ही हमे सफलता पाने के लिए दूसरों के तरीकों को भी सीखना चाहिए। वो हम सीख सकते हैं किताबों से तो आइये पढ़ते हैं :- ‘ किताब पर कविता ‘

किताब पर कविता

किताब पर कविता

कुछ होती है हलकी
कुछ होती हैं भारी
लेकिन इनमें होती है
दुनिया की हर जानकारी,
अकसर कुछ नया करने का
इनसे ही बनता ख्वाब है
जिंदगी में सबसे अच्छा दोस्त
कोई और नहीं किताब है।

ज्ञान की ये खान है
होती बहुत महान हैं
जीवन ये इंसान का बदले
तभी तो इसकी शान है,
क्या बीता? क्या होता है?
सबका इसमें हिसाब है
जिंदगी में सबसे अच्छा दोस्त
कोई और नहीं किताब है।



कबीर के दोहे हैं इसमें
संतों की इसमें वाणी है
पढ़ कर लाभ ही होता है
होती न कोई भी हानि है,
कोई ऐसा प्रश्न नहीं
जिसका न इसमें जवाब है
जिंदगी में सबसे अच्छा दोस्त
कोई और नहीं किताब है।

मंजिल पर जो पहुंचाती है
वही तो ये राह है
हर जिज्ञासु के मन में
इसको पाने की चाह है,
ये तो वो सागर है जिसमें
भरा ज्ञानमय आब है
जिंदगी में सबसे अच्छा दोस्त
कोई और नहीं किताब है।

पढ़िए :- “निश्चित ही सफलता मिल जाएगी” सफलता पर कविता

आपको ‘ किताब पर कविता ‘ कैसी लगी हमे आवश्य बतायें। आपके विचार हमारे लिए बहुमूल्य हैं।

पढ़िए अप्रतिम ब्लॉग की ये ज्ञानवर्धक रचनाएं :-


धन्यवाद।

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on email
Email

11 thoughts on “किताब पर कविता :- किताब का महत्व बताती कविता | Poem On Book In Hindi”

  1. Avatar
    Krishna Singh rao

    बहुत ही शानदार कविता प्रस्तुत की है जनाब आपने

  2. Avatar
    Mr.Ramesh Jatoliya

    नमस्ते सर हमे आपकी यह "पुस्तक पर कविता " बहुत ही अच्छी लगी है। हा मुझे भी लिखने का शौक हैं।
    आपका अपना आभारी
    Mr. रमेश रेगर
    लेखक / स्वतंत्र रचनाकार
    जोधपुर, राजस्थान

  3. Avatar

    इस लेख को पढ़कर हम और हमारे सभी मित्रगण बहुत उत्साहित है हम आशा करेंगे कि इसी तरह के लेख लाते रहिये ।
    और हमारे तरफ से आपको नये साल की ढेर सारी शुभकामनाएँ।

    गुल ने गुलशन से गुलफाम भेजा है
    फुर्सत मिले तो कबूल कर लेना
    हमने आपको सबसे पहले नये साल का पैगाम भेजा है ।
    Happy new year in advance -2018

    1. Sandeep Kumar Singh

      Anjani Pathak जी हमे प्रसन्नता है कि आपको हमारी रचनाएं पसंद आयी। नए साल की शुभकामनाओं के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद और आपको भी नए साल की ढेर सारी शुभकामनायें। आशा करते हैं कि आपका ये साल खुशियों भरा निकले और आपको हर कार्य में सफलता मिले।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *