Tagged: यादें कविताएँ

तेरी यादें कविता :- किसी की याद में दर्द भरी कविता | यादों की किताब भाग -2

यादें उन मेहमानों की तरह होती हैं जो बिना बताये कहीं भी कभी भी मिल जाती हैं। इनके मिलते ही दिल के हर कोने में एक तूफ़ान सा मचता है। वो तूफान जिसे हम...

सावन पर छोटी कविता :- जीवंत हो उठता है बचपन | बचपन की यादें भाग – 4

बचपन की यादों को कौन भूल सकता है भला। यही तो जीवन का वह समय होता है जब हम खुल कर अपने जीवन का आनंद लेते हैं। इसके बाद तो जैसे -जैसे उम्र बढती...

अतीत का अंतिम संस्कार | प्यार में धोखा मिलने के बाद आगे बढ़ने की प्रेरणा देती कविता

जिसने भी प्यार में धोखा खाया हैं उनको पता है की इस दर्द से उबरना कितना मुश्किल होता है। दुनिया में ऐसे-ऐसे भी उदाहरण देखने को मिल जाते है, जब लोग इस दर्द से...

माँ की लोरी कविता :- बचपन की यादें समेटे हुए एक प्यारी सी कविता भाग – 3

बचपन की यादें हमारे साथ सारी जिंदगी रहती हैं। यही वो पल होते हैं जो हमें हर अवस्था में अछे लगते हैं और फिर से उसी बचपन में लौट जाने का दिल करता है।...

पापा की याद में कविता

पापा की याद में कविता :- खाली कुर्सी देख के पापा | Father’s Day Special

किसी के चले जाने बाद उसकी याद तो साथ ही रहती है। साथ ही उस से जुडी चीजें भी उसकी कमी का अहसास करवाती रहती हैं। वो हमारे दिल के करीब हो जाती हैं।...

होली पर बीती यादों की कविता

होली पर बीती यादों की कविता :- वो फाल्गुन की मस्ती वो होली के रंग

होली का त्यौहार सिर्फ रंगों का ही त्यौहार ही नहीं, ये त्यौहार है अपनेपन का। त्यौहार उमंगों का, कुछ अनकही बातों का और कुछ बीती हुयी यादों का। होली के रंगों और होली की...