Tagged: भावनात्मक कहानियाँ

नशे से क्या फर्क पड़ता है?

नशे से क्या फर्क पड़ता है? :-ड्रग्स के समाज पर पड़ते बुरे प्रभाव की कहानी

क्या नशा सिर्फ नशेड़ियों को ही नुक्सान पहुंचाता है? क्या नशे और नशेड़ियों का हमसे कोई लेना देना नहीं होता? क्यों हम समाज के प्रति अपनी जिम्मेवारियों के प्रति आँखें...

इंसानियत पर कहानी

इंसानियत पर कहानी :- इंसानियत के महत्त्व पर भावनात्मक कहानी

आज के जीवन में इंसानियत के कम होते और पैसों के बढ़ते महत्त्व पर एक भावनात्मक कहानी। इंसानियत पर कहानी :- इंसानियत पर कहानी अंमित और रिया की शादी को...

कुदरत का इंसाफ

कुदरत का इंसाफ :- दहेज के लाभियों के अंजाम की कहानी

कुदरत बहुत ताकतवर होती है। ये इन्सान को इस तरह से सबक सिखाती है कि वो कभी सोच भी नहीं सकता कि ऐसा भी हो सकता है। इसीलिए कई दफा...

aaj ki pidhi

ज्ञान की बातें लघु कथा :- आज की पीढ़ी की बदलती हुयी मानसिकता की कहानी

आज घोर कलयुग चल रहा है। इतना घोर कलयुग कि हम अपने लिए ही कुआँ खोद रहे हैं और उसमे गिरने के बाद भगवान् को दोष दे देते हैं। लोग...

प्यार का मतलब

प्यार का मतलब – एक बेटे को माँ के द्वारा बतायी गयी प्यार की परिभाषा

वैसे तो ये कहानी काल्पनिक है। लेकिन इसमें भावनाएं 100 प्रतिशत शुद्ध हैं। ये कहानी है प्यार की। अरे नहीं! वो लैला-मंजनू और हीर-राँझा वाला प्यार नहीं। ये दूसरा वाला...