विज्ञापन

रोचक जानकारियाँ

कहानियाँ

भीष्म पितामह कौन थे – महाभारत के भीष्म पितामह की जन्म कथा

महाभारत में कौरवों और पांडवों के पितामह भीष्म पितामह के बारे में कौन नहीं जानता? लेकिन क्या आप जानते हैं कि भीष्म पितामह के...

कर्म फल पर कहानी :- न्याय या अन्याय | Karma Story In Hindi

कर्मों के फल से कोई नहीं बच सका है। देर-सवेर कर्मों का फल मिलता ही है। कैसे आइये जानते हैं इस " कर्म फल...

प्रेरणादायक कहानी ज़िंदगी खूबसूरत है | Kahani Zindagi Khoobsurat Hai

चिंताएं जो मनुष्य की हंसती-खेलती ज़िन्दगी को बर्बाद कर देती हैं। उसके जीवन को ऐसा नर्क बना देती हैं कि फिर वो उस से...

हास्य

नौकरी पर कविता :- बेवफा नौकरी | Naukri Par Hasya Kavita

प्राइवेट नौकरी करने वाले ही इस कविता में लिखी भावनाओं को समझ सकते हैं। कुछ या यूँ कहें ज्यादातर प्राइवेट संस्थानों में आजकल बेरोजगारी...

हास्य नाटक – गलती किसकी | हास्य नाटक स्क्रिप्ट इन हिंदी | Hasya Natak

हास्य नाटक - गलती किसकी आधारित है हमारी रोजमर्रा की जिंदगी में होने वाली बेवकूफियों से। इस नाटक में आपको वही दिखाया गया है...

हास्य व्यंग्य कविता नौकरी पर :- नौकरी देगी मार, ओ भैया ! | Hasya Vyang Kavita

हम सबको बचपन से ही यह सिखाया जाता है कि अगर हम बहुत पढ़ेंगे तो हमें अच्छी नौकरी मिलेगी। बस तब से ही सब...

सुविचार संग्रह

विज्ञापन

कवितायें

संस्कार पर कविता :- संस्कारों के बीज | Hindi Poem On Good Manners

' संस्कार पर कविता ' में बच्चों को बुराई से बचकर अच्छी बातें सीखने की सीख दी गई है ।अच्छी बातें अपनाकर बच्चे संस्कारवान...

बसंत पंचमी पर दोहे रूपी कविता | Basant Panchami Par Dohe

बसंत पंचमी पर दोहे रूपी कविता में बसन्त से सम्बन्धित विभिन्न बिम्बों को उभारा गया है । बसन्त ऋतु के आगमन पर जहाँ जन...

बसंत गीत कविता :- लो बसन्त के मदिर पवन से | Poem On Basant Panchami

 इस " बसंत गीत कविता " में ठिठुराती शीत ऋतु की समाप्ति के बाद बसन्त के आगमन का चित्रण है। बसन्त के आने पर...

बेटी की विदाई पर कविता :- विदाई के पल | Beti Ki Vidai Kavita

विवाह के बाद जब बेटी की विदाई का समय आता है तो माता-पिता की आँखों के सामने उस बेटी की बचपन से लेकर अब...

शायरियाँ

Latest Articles

श्री कृष्ण भक्ति शायरी :- भगवान श्री कृष्ण कन्हैया की भक्तिमय शायरी

जिनकी महिमा सारा जहान गाता है। वो कृष्णा कन्हैया जिन्होंने दैत्यों को मारा, अपने पापी मामा कंस को मारा और अर्जुन के सारथी बन...

वतन पर कविता :- हिंदी हैं हम वतन ये हमारा हिंदुस्तान है | Watan Par Kavita

भारत :- एक ऐसा देश जिसके बारे में बात करते हुए हर भारतवासी को अपने वतन पर गर्व होता है। ये एक विविधता से...

श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर कविता :- कृष्ण के जन्म का वर्णन करती एक कविता

जन्माष्टमी :- भगवन कृष्ण के जन्म का उत्सव है। वेदों और पुरानों के अनुसार कृष्ण जी का जन्म भाद्रपद अष्टमी को हुआ था। इस...

बचपन की यादें कविता :- बचपन के दिनों पर छोटी कविता | Bachpan Par Kavita

बचपन जीवन का सबसे सुंदर हिस्सा है। ये वो समय होता है जब हमारी एक अलग ही दुनिया होती है। न जिंदगी की भाग-दौड़...