शराबियों के मजेदार किस्से | मजेदार हास्य किस्से और कहानियाँ – 2

मजेदार हास्य किस्से और कहानियाँ – 2 । इस बार पढ़े शराबियों के मजेदार किस्से, कहानियाँ और चुटकुले।

शराबियों के मजेदार किस्से

शराबी सब्जी विक्रेता

समारू राम सब्जी मंडी से सब्जियाँ लाके गाँव के मार्किट में बेंचा करता था। एक दिन वो मंडी से अपने XL सुपर(एक तरह की दुपहियाँ वाहन) में दो केरेट सब्जी पिछली सीट में और दो बोरी में सब्जियाँ गाड़ी के आजू-बाजु लटका के ला रहा था। और उसने आज कुछ ज्यादा ही चढ़ा रखा था

जैसे तैसे तो वो गाड़ी को लहराते हुए चलाते आ रहा था। लेकिन उसकी चेतना ज्यादा देर तक साथ नही दे पाया, और एक जगह वो गिर पड़ा। गाड़ी की रफ़्तार धीमी होने के कारन चोट तो उसे नही आया लेकिन उसके सब्जियाँ सड़क पर बिखर गयी।

आसपास के दुकानदारो ने उन्हें देखा तो उसकी तरफ दौड़ पड़े, किसी ने समारू को उठाया किसी ने उसके सुपर XL को और कुछ उसके सब्जियों को बीनने लगे। इस तरह लोगो ने मिलके उसकी हालात दुरुस्त किया। लेकिन वो इतने नशे में था की ठीक से खड़ा भी नही हो पा रहा था।

एक दुकानदार ने उसके गाड़ी को चालू करके समारू को गाड़ी पे बैठाया। समारू जैसे ही गाढ़ी भगानी शुरू की दो-तीन मीटर दूर जाते ही फिर गिर पड़ा। पहले जितने लोग मदद के लिए आये थे उनमे से आधे लोग वापस जा चुके थे। सिर्फ दो-तीन ही बचे थे।

इस बार उन लोगो ने फिर से गाड़ी उठाया, सब्जी उठाये फिर समारू को थोड़ी देर रुक जाने के लिए कहा, लेकिन समारू गाड़ी को छोड़ने को राजी न था उसने बड़े रौब से कहा की वो बड़े आराम से चल देगा। लोगो ने उसे गाड़ी थमा थी और वहा से चल दिए।

समारू २-४ मिनट गाड़ी में बैठा बडबडाता रहा। कुछ मिनटों बाद उसने एक्सेलरेटर घुमाया और गाड़ी चला दी। इस बार वो मुश्किल से २ या ३ मीटर गया होगा और फिर से गिर गया। देखने वालो और बाकि दुकानदरो ने सोचा ये बेवडा मानेगा नही इसके चक्कर में हमारे काम का नुकसान हो रहा है।

इस बार कोई नही गया उसे उठाने। उस वक़्त उधर से एक कार गुजर रहा था। कार वाले ने अपनी कार साइड में रोक कर कार से निकला और समारू की मदद करने लगा। उसने पहले तो उसकी गाड़ी उठाया फिर सब्जियां और फिर समारू को उसपे बिठाया। उसके बाद वो वहाँ से चला गया।

समारू पुनः अपने गाड़ी पे बैठा था। धीमे से इस बार भी चलानी चाही लेकिन गाड़ी जैसे उसके काबू से बाहर होने लगी इस बार वो गिरा तो नही लेकिन गाड़ी संभली नहीं और हौले हौले हिचकोले खाते हुए जमीन पे लेट गया। अब समारू का दिमाग घूम चूका था। उसने थोड़ी देर खड़े-खड़े गाढ़ी को देखा, जो जमीन पे लेटा था।

उसके बाद दो बैगन बोरी से निकाले। और गाड़ी की ओर देख के चिल्लाया
“साली बेईमान मुझसे दुश्मनी करेगी मेरा बात नही मानेगी”
और दोनों बैगन गाड़ी पे दे मारा। उसके बाद थोड़ी देर फिर बडबडाया और फिर चिल्लाया,
“कमीनी मैंने तुझे पेट्रोल पिलाया, तुझे पाला पोसा और आज मुझे बिच मझदार में धोखा दे रही है।”
और इस तरस से कई लाते उसपे बरसाने लगा। पूरा गुस्सा उतार लेने के बाद अब वो पैदल घर की तरफ चलने लगा था…


शराबी दोस्त

एक गांव में 2 दोस्त रहा करते थे ! एक बापु और दूसरा पटेल ….

पटेल बहुत मेहनती था लेकिन बापु पूरा दिन शराब पीता…
पटेल जब भी बापु के यहां जाता बापु शराब पीकर टुन रहता..
पटेल काम की तलाश में शहर चला गया…..

कुछ अरसे के बाद वो एक नई साईकिल लेके बापु के यहां पहुंचा…
बापु उस समय भी शराब पी रहा था..
पटेल ने बापु को बहुत समझाया कि शराब पीना छोड़ और मेरे साथ शहर चल….
बापु राजी नहीं होते थे .
पटेल फिर शहर चला गया…

5 साल बाद पटेल नया स्कुटर लेकर गांव आया…और सीधा बापु के यहां पहुंचा
बापु अब भी शराब पी रहे थे ..
पटेल ने उसे फिर समझाया…
बापु नहीं माने ..
पटेल फिर से शहर चला गया..

10 साल बाद पटेल फिर गांव आया इस बार वो नई ऑडी कार में आया….और सीधा बापु के घर गया….
बापु घर पर नहीं थे ..
पटेल ने गांव वालो से पूछा….लोगो ने बताया बापु गांव से बाहर एक खेत पर मिलेगे ….
पटेल खेत पर पहुंचा….और देखा बापु अब भी शराब पी रहा है…..
तभी उसकी नजर वहां खड़े हैलीकोप्टर पर पड़ी…

उसने बापु से पूछा ये किसका है…
बापु :- यार शराब पीते पीते घर पर बहुत सारी खाली बोतल जमा हो गई थी …….
उन्ही को बेच कर ये हैलीकोप्टर
और
पार्किग के लिये ये खेत खरीद लिया…

पटेल आज तक कोमा में है…..

ये भी आपको पसंद आयेंगे:

ये रचनाएँ भी पढ़े..



अच्छा लगा? तो क्यों ना लाइक और शेयर करे..!
Chandan Bais

Chandan Bais

नमस्कार दोस्तों! मेरा नाम चन्दन बैस है। उम्मीद है मेरा ये लेख आपको पसंद आया होगा। हमारी कोशिश हमेशा यही है की इस ब्लॉग के जरिये आप लोगो तक अच्छी, मजेदार, रोचक और जानकारीपूर्ण लेख पहुंचाते रहे! आप भी सहयोग करे..! धन्यवाद! मुझसे जुड़ने के लिए आप यहा जा सकते है => Chandan Bais

You may also like...

1 Response

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *