मेरी माँ पर कविता – माँ का प्यार | मातृ दिवस पर विशेष कविता

मातृ दिवस पर आज मैंने माँ के लिए कुछ पंक्तियाँ लिखी हैं। हमारी ओर से इस संसार की हर माँ को हम ये कविता समर्पित करते हैं। पढ़िए माँ पर कविता – माँ का प्यार।

मेरी माँ पर कविता – माँ का प्यार

माँ पर कविता

इक थपकी नींद ले आती है, वो जब भी लोरी गाती है,
चेहरे के भाव को देख के ही, हर बात समझ वो जाती है।

मेरी नादानी, मेरी शैतानी, मेरी तोतली बातें बचकानी
देख के मेरे बचपन में ,वो अक्सर ही मुस्कुराती है,
बिगड़े जरा सी हालत तो, चिंता में वो पड़ जाती है,
देखभाल में मेरी अकसर, सारी रात जाग कर बिताती है,

इक थपकी नींद ले आती है, वो जब भी लोरी गाती है,
चेहरे के भाव को देख के ही, हर बात समझ वो जाती है।

खुद भूखी रह जाती है, पर भूखा न मुझे सुलाती है,
वो खाली पेट बसर कर, मुझको भर पेट खिलाती है,
हैरान हूँ मैं वो पढ़ी नहीं है, अक्षरों से कभी वो लड़ी नहीं है,
न जाने कैसा जादू है, वो मेरी हर धड़कन पढ़ जाती है,

इक थपकी नींद ले आती है, वो जब भी लोरी गाती है,
चेहरे के भाव को देख के ही, हर बात समझ वो जाती है।

वो तपती धूप में छाया है, वो प्यार की पावन माया है,
माँ की महिमा को तो, खुद भगवान ने भी गाया है,
उसके आशीर्वाद से ही, हर दुःख तकलीफ मिट जाती है,
“माँ” की मौजूदगी से ही तो, घर में खुशियां आती हैं

इक थपकी नींद ले आती है, वो जब भी लोरी गाती है,
चेहरे के भाव को देख के ही, हर बात समझ वो जाती है।


आपको ये माँ पर कविता कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं हमें आपके अनमोल विचारों की प्रतीक्षा रहेगी। धन्यवाद। पढ़े ये बेहतरीन कविताएँ-

ये रचनाएँ भी पढ़े..



अच्छा लगा? तो क्यों ना लाइक और शेयर करे..!
Sandeep Kumar Singh

Sandeep Kumar Singh

बस आप लोगों ने देख लिया जीवन धन्य हो गया। इसी तरह यहाँ पधारते रहिये और हमारा उत्साह बढ़ाते रहिय्रे। वैसे अभी तो मैं एक अध्यापक हूँ साथ ही इस अपने इस ब्लॉग क लिए लिखता हूँ। लेकिन मेरे लिए महत्वपूर्ण है आप लोगों के विचार। अपने विचार हम तक अवश्य पहुंचाएं। जिससे हम उन पर काम कर के आपकी उम्मीदों पर खरे उतर सकें। धन्यवाद।

You may also like...

9 Responses

  1. Anonymous says:

    So nice

  2. anonymous says:

    Very nice

  3. लक्ष्मीनारायण says:

    अति सुंदर कविता

  4. Prakash Gehlot says:

    Ati sundar

  5. Satya Chauhan says:

    BUlkul Sahi Likha Guru Ji

Leave a Reply

हमें ख़ुशी है की हमारे लेख के बारे में आप अपने विचार देना चाहते है, परन्तु ध्यान रहे हम सारे कमेंट को हमारे कमेंट पालिसी के आधार पर स्वीकार करते है।