कुमारी कंदम की कहानी | The Unsolved Mystery Of Lemuria In Hindi

ये रचनाएँ भी पढ़े..



अच्छा लगा? तो क्यों ना लाइक और शेयर करे..!

Sandeep Kumar Singh

बस आप लोगों ने देख लिया जीवन धन्य हो गया। इसी तरह यहाँ पधारते रहिये और हमारा उत्साह बढ़ाते रहिय्रे। वैसे अभी तो मैं एक अध्यापक हूँ साथ ही इस अपने इस ब्लॉग क लिए लिखता हूँ। लेकिन मेरे लिए महत्वपूर्ण है आप लोगों के विचार। अपने विचार हम तक अवश्य पहुंचाएं। जिससे हम उन पर काम कर के आपकी उम्मीदों पर खरे उतर सकें। धन्यवाद।

You may also like...

6 Responses

  1. Pawan Soni says:

    Thenk You….

  2. अनीश कटकवार says:

    कोई वैज्ञानिक तथ्य के साथ भी इस संबंध मे लेख प्रस्तुत करे। आभार।

    • Mr. Genius says:

      अनीश कटकवार जी आपके इस निवेदन पर हम कार्य जरूर करेंगे और बहुत जल्द वैज्ञानिक तथ्यों से पूर्ण एक लेख आपकी सेवा में प्रस्तुत करेंगे। इसी तरह अपने विचार देते रहिये और हमारे ब्लॉग से जुड़े रहिये।
      आपका अति धन्यवाद।

  3. लेमोरिइन सभ्यता का जिक्र बोरिसका रुसी बच्चा जो खुद को मंगल ग्रह का वासी बताता है करता है उसके अनुसार इस सभ्यता के लोग आज से लगभग 75 हजार साल पहले रहते थे जिनका कद 9मीटर होता था
    क्या यह सत्य है???

    • अगर आपने उसका इंटरव्यू देखा हो तो उसमे वो खुद कोई जवाब नहीं दे रहा है। सारे जवाब उसकी माँ द्वारा दिए जा रहे हैं। उसकी की गयी भविष्यवाणी की 2009 या 2013 में धरती पर तबाही होगी, भी झूठी निकली। इसमें जरा भी सच्चाई नहीं है। यह मात्र गलत ढंग से प्रसिद्धि पाने का एक घटिया तरीका है। एक पूरी तरह काल्पनिक और रोचक कहानी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *