Category: Rishto Pe Kavitaayen

पिता पापा डैडी पर छोटी कविताएँ | पिता के चरणों में एक भेंट

पिता, जिनके नाम से ही एक परिवार का नाम जाना जाता है। हमारे नाम को भी उन्हीं के नाम से पहचान मिलती है। पिता का प्यार तो उनकी डांट में छिपा होता है। जिसकी...

papa ki ladli betiyan

पापा की लाडली बेटीयां :- बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर एक गीत

बेटियाँ जीवन का आधार हैं, बेटियों के बिना तो जीवन बेकार है। बेटियों से ही तो हर रिश्ते नाते हैं, बेटियों से ही तो सब जन्म पाते हैं। लेकिन आज के ज़माने में भी...

दहेज की आग में जलती लाज पर कविता :- बेटी

दहेज की आग में जलती लाज पर कविता :- बेटी

बेटियों पर लिखी रचनाएं इस ब्लॉग पर आपने पहले भी पढ़ी होंगी। ये कविता उन कविताओं से थोड़ी अलग है। मूल रूप से यह कविता पंजाबी में थी। जिसे हमने लेखक की आज्ञा से...

बेटी पर मार्मिक कविता

बेटी पर मार्मिक कविता :- बेटी बिन अधूरा संसार और मासूम बेटी की पुकार

समाज में औरतों की कम होती संख्या मानव जीवन के लिए एक बहुत बड़ी समस्या बन सकती है। सोचिये क्या एक समाज बिना औरत के आगे बढ़ सकता है? क्या ये संभव है कि...

माँ के क़दमों में सारा जहान

माँ के क़दमों में सारा जहान :- माँ पर कविता हिंदी में

इन्सान एक सामाजिक प्राणी है। उसे समाज में बने रिश्तों के ताने-बाने के बीच रहना पड़ता है। इनमे कई रिश्ते बहुत ख़ास होते हैं और कई साधारण लेकिन इनमे एक रिश्ता ऐसा होता है...

नानी पर कविता – नानी की तारीफ की कविता

जिंदगी में हम अपने आस-पास कई लोगों को देखते हैं। उम्र के अलग-अलग पड़ाव में उनके चेहरों की अवस्था बदलती रहती है। लेकिन हमारे नाना-नानी और दादा-दादी के चेहरे, जो हम बचपन में देखते...